चीन पर एक्शन मोड में मोदी सरकार, लद्दाख में सेना को दी गयी ये छूट|पढ़िए खबर updates

Picture Courtesy From Social Media

By : News RedBull | Published On: Jun 18, 2020 |
114


चीन पर एक्शन मोड में मोदी सरकार, लद्दाख में सेना को दी गयी ये छूट|पढ़िए खबर updates

New Delhi: Online Desk//इस समय एक बड़ी खबर आ रही है : गलवान घाटी में हिंसक झड़प के बाद चीन से सटी 3400 किमी लंबी लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल को अलर्ट कर दिया गया है.

Breaking News Stock Photos, Pictures & Royalty-Free Images

सभी जगह फॉरवर्ड पोस्ट के कंपनी कमांडर को चीन की ओर से कोई हरकत होने पर एक्शन लेने के आदेश दिए गए हैं. सेना ने अपने ऑफिसर और जवानों की छुटि्टयां कैंसिल कर दी हैं. कोरोना के चलते जो ऑफिसर्स और जवान पहले से छुट्‌टी पर थे, उन्हें लॉकडाउन लगने पर लौटने से मना कर उनकी छुट्‌टी बढ़ा दी गई थी.

अब सभी छुटि्टयों को कैंसिल कर दिया गया है. पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर हुई हिंसक झड़प में 20 जवानों की शहादत के लिए भारत ने सीधे तौर पर चीन को जिम्मेदार ठहराया है. इस बीच मोदी सरकार भी एक्शन मोड में आ गई है. चीन पर एक्शन मोड में मोदी सरकार, लद्दाख में सेना की यूनिट की वापसी पर रोक लगा दी गयी है। 

Post-COVID World: Modi juggernaut, rise of BJP and Stockholm ...

लद्दाख में सीमा से सटे गांव खाली करवाने की तैयारी शुरू हो गई है. सेना ने एहतियातन लोगों से गांव खाली करने को कहा है. देमचोक पैंगॉन्ग लेक के आसपास के इलाकों में मोबाइल फोन बंद कर दिए हैं.

यहां तक कि सेना के लैंडलाइन फोन भी बंद कर दिए गए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के साथ जारी तनाव पर 19 जून को सर्वदलीय बैठक भी बुलाई है.

मोदी सरकार ने चीन को आर्थिक रूप से सबक सिखाना शुरू कर दिया है। एक बड़ा निर्णय लेते हुए BSNL और MTNL को निर्देश दिए है कि दूर संचार में अब चीनी मशीनों का प्रयोग नहीं किया जाये। अगर किसी चीनी कंपनी को टेंडर जारी हो गए है तो तुरंत टेंडर निरस्त कर नए टेंडर जारी किये जाएँ।

मोदी सरकार का ये कदम आत्म निर्भरता की ओर एक बड़ी छलांग है। सरकार को ये भी संदेह है कि चीनी कंपनियां इन उपकरणों के सहारे देश की जासूसी भी कर सकती है। 

indian army officer and two soldiers killed in ladakh galwan ...

चीन को सही से पटखनी देने के लिए भारत जल्द ही और बड़े और कड़े आर्थिक फैसले चीन के खिलाफ लेने जा रही है। निजी दूर संचार कंपनियों को भी यही निर्देश देने की प्रक्रिया देर रात में ही शुरू कर दी गयी है। संचार उपकरणों की किसी भी खरीद पर से तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गयी है।

 सरकार के इस  कदम से चीन को भारी आर्थिक नुक्सान होने जा रहा है।  मोदी सरकार के इस कदम से ये सन्देश भी माना जा रहा है कि चीनी सामानो की खरीद भारतीय लोग कम से कम करें। 

चीन के साथ गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प पर भारतीय विदेश मंत्रालय का बयान आया है और विदेश मंत्रालय ने इस खूनी संघर्ष के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराया है. भारत ने चीन की इस हरकत को लेकर अपना कड़ा विरोध जताया है और कहा है कि गलवान में जो हुआ वह चीन द्वारा पूर्व नियोजित और योजनाबद्ध कार्रवाई थी जो घटनाओं के लिए जिम्मेदार है.

पुलवामा हमले के बाद सेना का बड़ा ...

भारतीय विदेश मंत्रालय ने ये भी कहा है कि गलवान घाटी में जो कुछ हुआ वो चीन की साजिश है और इससे निश्चित तौर पर दोनों देशों के संबंधों पर असर पड़ेगा.

Related News

Like Us

HEADLINES

बॉलीवुड को एक और बड़ा झटका, मशहूर कोरियोग्राफर का निधन | BREAKING कानपुर: बदमाशों से मुठभेड़ में सीओ समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद | कराची स्टॉक एक्सचेंज पर आतंकी हमला, हुयी मौतें, नहीं पहुंच पाए ट्रेडिंग हॉल तक | मायावती की दो टूक: कांग्रेस के लोग करते हैं बेहूदी बातें, इस मुद्दे पर हम है BJP के साथ! | कोरोना से लेकर लद्दाख, पढ़ें PM मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें ! |