आपके SIM के साथ ऐसे हो सिम स्वैप:कस्टमर केयर बनकर अकाउंट से उड़ाए लाखों रुपये|NewsRedbull

Picture Courtesy From Social Media

By : News RedBull | Published On: Jun 01, 2020 |
1018


आपके SIM के साथ ऐसे हो सिम स्वैप:कस्टमर केयर बनकर अकाउंट से उड़ाए लाखों रुपये|NewsRedbull

नोएडा : Online Desk साइबर फ्रॉड (Cyber fraud) की खबर आजकल आम हो गई हैं. कोरोना वायरस के बीच ऐसी खबरें तेज हो गई हैं और हैकर्स फ्रॉड करने का नया-नया तरीका अपना रहे हैं. कुछ समय से हैकिंग को लेकर जो तरीका बार-बार सामने आ रहा है, वह है सिम स्वैपिंग (Sim swap fraud) का.

इसी बीच नोएडा से भी ऐसा ही मामला सामने आया है जिसमें जालसाजों ने एक महिला को 9 लाख रुपये की चपत लगा दी है. दरअसल हैकर्स ने महिला को कस्टमर केयर एग्जिक्यूटिव के तौर पर कॉल करके सिम को 3G से 4G में कन्वर्ट करने का झांसा दिया था. पता चला है कि ऐसा सिम स्वैपिंग का सहारा लेकर किया गया है. आइए जानते हैं क्या होती है SIM स्वैपिंग...

Cyber Fraud In The Name Of Corona Virus, Use These Tips To ...

क्या होता हैं सिम स्वैप- हैकर्स खुद को टेलीकॉम कंपनी का कर्मचारी बताकर आपका 20 अंकों वाला सिम कार्ड नंबर लेते हैं. जिसके बाद किसी खास सर्विस के लिए आपको एक नंबर दबाकर रिप्लाई करने को कहा जाता है. जैसे ही आप ये नंबर दबाते हैं आपके मोबाइल से नेटवर्क गायब हो जाता है और यहीं से सिम स्वैप का डर्टी गेम शुरू होता  है.
 

कोविड-19 के साथ भारत में साइबर क्राइम ...

इस तरह से लगाते हैं चूना-


जैसे ही आप हैकर्स को अपना सिम नंबर देते हैं वो आपका डुप्लीकेट सिम बना लेता है.

>> जब आप खास मैसेज पर रिप्लाई करते हैं तो कंपनी को लगता है कि आपने नए सिम के लिए अप्लाई किया है.

> ये सब कुछ होने में 2-3 घंटे का वक्त लगता है. उस बीच चालाक हैकर्स आपको लगतार कॉल करते हैं ताकि आप परेशान होकर या तो फोन बंद कर दें या फिर उसे म्यूट कर दें और आपको किसी तरह का कोई मैसेज अपने सर्विस प्रोवाइडर से न मिले.

Cyber Fraud Gang Exposed Who Theft Millions Of Rupees From Temple ...

>> एक बार सिम स्वैप सक्सेसफुल हुआ तो फिर आपको वो कभी पता नहीं लगेगा.

>> इस तरह के फ्रॉड में हैकर्स के पास आपका बैंक अकाउंट नंबर या एटीएम कार्ड नंबर पहले से होता है, जो वो फिशिंग के जरिए हासिल कर चुका होता है.

>> बस जरूरत होती है तो ओटीपी की जो आपके सिम स्वैप करने से मिल जाता है.

>> OTP हासिल होते ही आपकी मेहनत की कमाई मिनटों में उड़ जाती है.

>> ये हैकर्स इतने चालाक होते हैं कि कई बार फोन करके तो ये आपको इतना परेशान कर देते हैं कि आप गुस्से में आकर फोन ही बंद कर देते हैं.



>> इसी का वो इंतजार करते हैं ताकि पैसे उड़ाने पर आपके नंबर पर बैंक के मैसेज ना आएं

>> जिसके बाद आपका सिम बंद हो जाता है. ठीक उसी समय हैकर्स के पास मौजूद आपके डुप्लीकेट सिम पर नेटवर्क आ जाता है.

Related News

Like Us

HEADLINES

बॉलीवुड को एक और बड़ा झटका, मशहूर कोरियोग्राफर का निधन | BREAKING कानपुर: बदमाशों से मुठभेड़ में सीओ समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद | कराची स्टॉक एक्सचेंज पर आतंकी हमला, हुयी मौतें, नहीं पहुंच पाए ट्रेडिंग हॉल तक | मायावती की दो टूक: कांग्रेस के लोग करते हैं बेहूदी बातें, इस मुद्दे पर हम है BJP के साथ! | कोरोना से लेकर लद्दाख, पढ़ें PM मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें ! |