क्या हुआ ऐसा कि ये डाक्‍टर हॉस्पिटल के सामने नई-नवेली पत्नी संग बेचने लगा चाय! NewsRedbull

Picture Courtesy From Social Media

By : News RedBull | Published On: May 17, 2020 |
336


क्या हुआ ऐसा कि ये डाक्‍टर हॉस्पिटल के सामने नई-नवेली पत्नी संग बेचने लगा चाय! NewsRedbull

नई दिल्ली।Online Desk NewsRedbull// कोरोना संकट काल हो या सामान्‍य दिन हर दिन अपनी सेहत की परवाह किए बगैर मरीजों का इलाज करने वाला हर डाक्टर भगवान का ही तो रुप हैं। इसके बावजूद इस कोरोना संकट काल में कहीं इन डाक्टरों पर पत्‍थर फेंके गए तो कहीं उनके साथ अन्‍य बदसलूकी की।

इस मजबूरी में ठेले पर बेच रहें चाय

इन सभी घटनाओं ने मानवता को तार-तार कर दिया हैं वहीं एक और शहर हैं जहां एक डाक्‍टर के साथ कुछ ऐसा हुआ कि वो उसी अस्‍पताल के सामने चाय का ठेला लगा रहा हैं जिस अस्‍तताल में वो कुछ दिनों पहल मरीजों का आला लगाकर इलाज किया करता था।आइए जानते हैं आखिर उसके साथ ऐसा क्या हुआ जो उसे ये कदम उठाना पड़ा?

ये अजीबोगरीब वाकया इस शहर का है 

दरअसल, ये अजीबोगरीब दृश्‍य करनाल में एक प्राइवेट अस्‍पताल के सामने देखने को मिला। जहां सफेद एप्रन पहने एक नवजवान डाक्टर अपनी नव विवाहिता पत्‍नी के साथ ठेले पर खड़े होकर चाय बेच रहा हैं। उस रास्‍ते से निकलता हुआ हर व्‍यक्ति ये नजारा देखकर कर गहरी सोच में पड़ जाता हैं आखिर ये ऐसा क्यों कर रहे हैं।

 

इस मजबूरी में ठेले पर बेच रहें चाय

आपको बता दें ठेले चाय बेच रहे से डाक्टर गौरव शर्मा हैं और ये करनाल के एक प्राइवेट अस्‍पताल में डॉक्‍टर थे। उनका कसूर इनता था कि उन्‍होंने जब लॉकडाउन में अपनी दो माह की बकाया सैलरी मांगी तो उनका पहले ट्रांसपर कर दिया गया और जब उन्‍होंने उसका और विरोध किया तो उन्‍हें अस्‍पताल प्रशासन ने नौकरी से ही निकाल दिया गया।

जिस अस्‍पताल में नौकरी करता था ...

मालूम हो कि डॉ. गौरव ृ एक निजी कंपनी द्वारा संचालित अस्पताल में नौकरी कर रहे थे। उन्‍होंने अस्‍पताल प्रशासन पर आरोप लगाया कि उनको दो माह की सैलरी नहीं दी गई और सैलरी मांगने पर नौकरी से निकाल दिया गया। इससे परेशान डा. गौरव शर्मा ने पत्‍नी के साथ चाय का ठेला लगा कर चाय बेचना शुरु कर दिया।

सैलरी मांगी तो नौकरी से ही निकाल दिया

बता दें करनाल के सेक्टर-13 में उन्होंने ठेले पर चाय बनाकर लोगों को दी। राहगीरों ने उन्‍हें देखकर उनका दर्द जानना चाहा और कुछ ही देर में वहां भीड़ जुट गई। डाक्‍टर गौरव ने सरकार से अस्‍पताल को संचालित करने वाली कंपनी के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। डा. गौरव शर्मा सेक्टर-13 स्थित प्राइवेट कंपनी के अस्पताल में आरएमओ के पद पर तैनात थे। वह आइसीयू का काम देखते थे। उन्‍होंने बताया कि उन्‍हें अस्‍पताल प्रशासन ने फरवरी व मार्च में कंपनी की ओर से सैलरी नहीं दी गई।

सैलरी मांगी तो नौकरी से ही निकाल दिया

फिलहाल डा. गौरव को एक माह लीव विदआउट पे पर रहने को कहा था, लेकिन उन्‍होंने इसे मानने से इंकार कर दिया। इतना ही नहीं कंपनी के हेडआफिस में भी अपनी सैलरी न मिलने की शिकायत की और अपनी सैलरी मांगी तो उन्‍होंने भी उनकी एक न सुनी। इतना ही नहीं वरिष्ठ अधिकारियों से संपर्क किया तो उनका ट्रांसफर गाजियाबाद कर दिया। विवाद बढ़ गया तो उनको नौकरी से निकाल दिया गया।

Related News

Like Us

HEADLINES

एकता कपूर पर FIR से बॉलीवुड में मचा हड़कंप: जानिये किसने कहाँ और क्यों कराई है !NewsRedbull | भयानक अंधविश्वाश: गांव को बचाने के लिए शिवमंदिर में चढ़ा दी अपनी जीभ,जानिए कारण|NewsRedbull | Social Media की नई सनसनी बनी साउथ की यह अभिनेत्री, लोग देख रहे हैं जी भर के PHOTOS! NewsRedbull | कानपुर में खूनी खेल: रंगेहाथ पकडे जाने पर प्रेमी संग किया भाई मो.जफर का कत्ल,रची झूठी कहानी|NewsRedbull | दिन दहाड़े LIC की कैश वैन पर गोलियों की बौछार:लाखों की लूट,जानिए कितने हुए घायल|UP| |