बनी IAS: 2011 में फेल, फिर उसी exm में मिले नोटिस ने बदल दी ज़िन्दगी:प्रेग्नेंसी में दी परीक्षा|NewsRedbull

Picture Courtesy From Social Media

By : News RedBull | Published On: May 15, 2020 |
411


बनी IAS: 2011 में फेल, फिर उसी exm में मिले नोटिस ने बदल दी ज़िन्दगी:प्रेग्नेंसी में दी परीक्षा|NewsRedbull

NewsRedbull Online Desk// Success Story Of IRS Poonam Dahiya:

हम सब को बहाने खोजने से बेहद प्यार होता है। आयु, लिंग, वैवाहिक स्थिति, वित्तीय पृष्ठभूमि, सुविधाओं की कमी, कार्य-दबाव — ये केवल कुछ ही बहाने हैं जिसका हवाला प्रायः लोग दिया करते। जब हम किसी कार्य को करने में असफल रह जाते या फिर तन-मन-धन से हमारा लक्ष्य उस कार्य को करने के लिए एकीकृत नहीं रहता तो हम ऐसे ही बहाने ढूंढा करते।

लेकिन आज हम जिस महिला की कहानी प्रस्तुत कर रहे हैं उनकी जिंदगी संघर्षों से भरी रही है। इनके सफलता की कहानी मध्यम वर्ग से ताल्लुक रखने वाली हर लड़की को आगे बढने की प्रेरणा देती है। कड़ी मेहनत और संकल्प की यह कहानी न सिर्फ लड़कियों को बल्कि समाज के हर वर्ग को प्रेरित करती है।

दिमाग से निकाल दीजिए UPSC क्लियर करने ...

 जहां हम आज तक यही सुनते आये हैं कि इस कठिन परीक्षा में सफल होने के लिये कैंडिडेट को दिन-रात एक कर देने पड़ते हैं और एक दिन में 14 से 16 घंटे पढ़ाई करनी होती है, वहीं पूनम दहिया का मानना है कि घंटे नहीं नियमित पढ़ाई करना जरूरी है. उनका मानना है कि दिन में 6 से 7 घंटे पढ़ाई करके भी यह परीक्षा पास की जा सकती है बशर्ते पढ़ाई नियमित रूप से की जाए.

IAS Success Story: दिन में सिर्फ 6 घंटे पढ़कर पूनम दहिया ने क्रैक किया UPSC एग्जाम

 

कम पढ़िये पर रोज़ पढ़िये, यही ट्रिक उनके अनुसार इस परीक्षा की तैयारी के लिये काम आती है. हरियाणा के झज्जर जिले की पूनम ने इसी फॉर्मूला पर हमेशा पढ़ाई की और सफलता भी हासिल की. उनका कहना है कि वे उस तरीके को बिल्कुल सपोर्ट नहीं करतीं, जहां कैंडिडेट्स एक दिन तो 18 घंटे पढ़ लेते हैं फिर दो दिन का गैप कर देते हैं. फिर एक दिन 20 घंटे पढ़ लिया और तीन दिन किताब को हाथ नहीं लगाया. वे कहती हैं भले आप 6 घंटे पढ़ें पर रोजाना पढ़ें.

aajtak samachar A2znews पर पढ़ें क्योंकि यह ...

पूनम थीं पहले प्राइमरी टीचर –

भरे कई सरकारी नौकरी के फार्म'....गर्भ ...

 

आईआरएस अधिकारी बनने से पहले पूनम दिल्ली के एक स्कूल में प्राइमरी टीचर थीं. उस समय वे 21 साल की थीं. इसके बाद उन्होंने बैंक पीओ का फॉर्म भरा, वो भी क्लियर हो गया और उन्होंने कुछ समय बैंक की नौकरी की. इसके बाद पूनम ने एसएससी परीक्षा दी और ऑल ओवर इंडिया में 7वीं रैंक पाई. इसके बाद भी उनका मन नहीं भरा, उनके सपने कहीं ज्यादा बड़े थे.

ऐसे में पूनम ने 28 साल की उम्र में पहली बार यूपीएससी की परीक्षा दी. उनका चयन तो हो गया पर रैंक कम आने से उन्हें रेलवे (आरपीएफ) मिला, इसमें उन्हें रुचि नहीं थी. उन्होंने दोबारा परीक्षा दी और दूसरी बार भी इसे पास कर लिया, लेकिन रैंक के कारण एक बार फिर उन्हें रेलवे में ही दूसरी सेवा (आईआरपीएस) मिली. तीसरी बार में वे आईआरएस ऑफिसर बन पायीं.

Poonam Dahiya – Savya Sachi Ayurveda

 

एक समय खत्म हो गया था यूपीएससी का सफर –

 

पूनम ने एक साक्षात्कार में बताया कि साल 2011 में उन्होंने तीसरी बार यह परीक्षा दी और प्री-परीक्षा पास नहीं कर पायीं. यहीं से उनका यूपीएससी का सफर खत्म हो गया था. इसके बाद उन्होंने हरियाणा सिविल सर्विसज़ पास करके हरियाणा पुलिस में नौकरी कर ली. लेकिन किस्मत को कुछ और मंजूर था. कुछ सालों के बाद उन्हें एक नोटिस मिला जिसमें लिखा था कि चूंकि साल 2011 में यूपीएससी के परीक्षा सिलेबस में कुछ बदलाव थे, इसलिये उस साल के कैंडिडेट्स को परीक्षा देने का एक मौका और दिया जाएगा.

 

बस यहीं से पूनम की लाइफ ने यूटर्न ले लिया. इस नोटिस से मिले मौके को कैश कराते हुये उन्होंने साल 2015 में फिर से परीक्षा दी और सेलेक्ट हो गयीं. काबिले-तारीफ बात यह है कि जब पूनम ने प्री परीक्षा दी, उस समय वे नौ महीने की गर्भवती थीं और जब मेन्स एग्जाम दिया उस समय उनका बेटा ढ़ाई महीने का था.

लेकिन किसी भी वजह से वह नहीं रुकीं और अच्छी रैंक पाकर आईआरएस ऑफिसर बन गईं. पूनम कहती हैं कि इस परीक्षा को पास करने के लिये सबसे जरूरी है आत्मविश्वास. आप जितने बड़े पद के लिये परीक्षा दे रहे हैं, उसे संभालने के लिये उतना ही बड़ा कॉन्फिडेंस भी आप में होना चाहिए.

अगस्त 2015 में जब पूनम यूपीएससी की परीक्षा दी तो वह नौ माह की गर्भवती थीं। दिसंबर में जब मेन्स की परीक्षा में बैठीं तो उनका बच्चा महज़ तीन माह का था।

How to prepare for UPSC Civil Services Examination - Poonam Dalal ...

हरियाणा के झज्जर जिले के छारा गांव से ताल्लुक रखने वाली पूनम राजधानी दिल्ली में पली-बढीं। 12वीं पास करने के बाद साल 2002 में उन्होंने एमसीडी स्कूल, सेक्टर-24 रोहिणी में प्राथमिक शिक्षक के रूप में अपना करियर शुरू किया। नौकरी के साथ-साथ उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से डिस्टेंट एजुकेशन में स्नातक भी पूरा किया।

स्नातक स्तर की पढ़ाई पूरी करने के बाद वह अलग-अलग बैंक पीओ परीक्षा और एसएससी स्नातक स्तर की परीक्षा में भाग लेती रहीं और सभी परीक्षा को सफलतापूर्वक पास कर लिया। लेकिन उन्होंने एसबीआई पीओ को चुना।

poonam dahiya (@dahiyapoonam97) | Twitter

एसबीआई में 3 साल तक काम करने के बाद, साल 2006 में पूनम ने एसएससी ग्रेजुएट लेवल परीक्षा में राष्ट्रीय स्तर पर 7वां रैंक हासिल करते हुए आयकर विभाग में नए करियर की शुरुआत की और इस सफलता ने उनके अंदर यूपीएससी परीक्षा लिखने की ललक पैदा की।

वर्ष 2007 में पूनम दिल्ली के असीम दहिया के साथ परिणय सूत्र में बंध गईं। कस्टम एक्साइज डिपार्टमेंट में कार्यरत उनके पति ने हमेशा उन्हें आगे बढ़ाने में उनका साथ दिया और कुछ बड़ा करने के लिए प्रोत्साहित करते रहे।

Related News

Like Us

HEADLINES

भारतीय क्रिकेटर ऋषभ पंत की बहन पर इस युवक ने लगाए कई गंभीर आरोप, मांगा इंसाफ… | तब्लीगी जमात के 2200 विदेशियों पर गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला|पढ़िये खबर,NewsRedbull | ब्रेकिंग: सुप्रीम कोर्ट में चिदंबरम की बेल को चुनौती, CBI की याचिका पर आया ये फैसला,जानें|NewsRedbull | नहीं रहे हिट भोजपुरी गाने रिंकिया के पापा के म्यूजिक डायरेक्टर,जानिए कब कहाँ और कैसे|NewsRedbull | Mastram में बोल्ड सीन्स देने वाली भोजपुरी एक्ट्रेस रानी चटर्जी को इस वजह से नहीं आई नींद!NewsRedbull |