National Technology Day: आखिर किस घटना के कारण मनाया जाने लगा,पढ़िए |NewsRedbull

Picture Courtesy From Social Media

By : News RedBull | Published On: May 11, 2020 |
363


National Technology Day: आखिर किस घटना के कारण मनाया जाने लगा,पढ़िए |NewsRedbull

NewsRedbull Online Desk // New Delhi: भारत में हर वर्ष 11 मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस मनाया जाता है। इसे मनाने का मुख्य उद्देश्य, देश की तकनीकी प्रगति को रेखांकित करते हुए उसे सेलिब्रेट करना है। देश को ताकतवर बनाने में टेक्‍नोलॉजी का बहुत योगदान होता है। इसल‍िए राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस यानी टेक्‍नोलॉजी का भी बहुत महत्‍व है। 

May 11: National Technology Day - Current Affairs Today

11 मई को भारत में टेक्‍नोलॉजी डे मनाया जाता है। इतिहास में यह तारीख इसल‍िए अहम है क्‍योंक‍ि इसी दिन भारत ने 1998 में दूसरी बार परमाणु परीक्षण किया था।इसल‍िए 11 मई को हर साल राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस मनाया जाता है। यह दिन देश की तकनीकी क्रांति के लि‍ए याद क‍िया जाता है।

National Technology Day 2016 | Department Of Science & Technology

भारत 1998 में एक उभरती परमाणु शक्ति बन गया था, जिसके पीछे का कारण था 11 मई1998 को हुआ परमाणु परिक्षण। दरअसल 11 मई को राजस्थान के पोखरण परीक्षण श्रृंखला में भारत ने दूसरी बार सफलतापूर्वक परमाणु परीक्षण किया था। उस समय देश के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी थे।

National Technology Day to be celebrated today

दो दिन बाद देश में दो और परमाणु हथियारों का परीक्षण हुआ। इस परीक्षण के साथ ही भारत दुनिया के उन छह देशों में शामिल हो गया, जिनके पास परमाणु शक्ति है। बस इसी वजह से 11 मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस मनाया जाता है। इसके अलावा कई और अहम तकनीकी क्रांति इसी दिन संभव हुई थी।

National Technology Day

इन कारणों से भी 11 मई है अहम

भारत के विमान हंस ने 1998 में इसी दिन उड़ान भरी थी। हंस-3 को नेशनल एयरोस्पेस लैबोरेटरी ने बनाया था। वह दो सीटों वाला हल्का विमान था। इसका इस्तेमाल पायलटों को प्रशिक्षण देने, हवाई फोटोग्राफी, निगरानी और पर्यावरण से संबंधित परियोजनाओं के लिए होता है।

National Technology Day

11 मई 1998 को ही रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने त्रिशूल मिसाइल का आखिरी परीक्षण किया था। फिर उस मिसाइल को भारतीय वायुसेना और भारतीय थलसेना में शामिल किया गया था। त्रिशूल जमीन से हवा में मार करने वाले मिसाइल है। यह छोटी दूरी की मिसाइल है।

Related News

Like Us

HEADLINES

चीन की धमकी के बाद भारत के साथ आया अमेरिका, चीन को कह डाली ये बड़ी बात,पढ़िए खबर|NewsRedbull | जानिए किस कारण बौखलाया है चीन, कहाँ पर दोनों और हो रहा गोला बारूद का जमावड़ा,पढ़िए खबर|NewsRedbull | एकता कपूर पर FIR से बॉलीवुड में मचा हड़कंप: जानिये किसने कहाँ और क्यों कराई है !NewsRedbull | भयानक अंधविश्वाश: गांव को बचाने के लिए शिवमंदिर में चढ़ा दी अपनी जीभ,जानिए कारण|NewsRedbull | Social Media की नई सनसनी बनी साउथ की यह अभिनेत्री, लोग देख रहे हैं जी भर के PHOTOS! NewsRedbull |