इंजीनियर जिसने तस्वीरों में खोजा विक्रम लैंडर: फिर दी ISRO, NASA को जानकारी|NewsRedbull

Picture courtesy From Social Media

By : News RedBull | Published On: Dec 03, 2019 |
238


इंजीनियर जिसने तस्वीरों में खोजा विक्रम लैंडर: फिर दी ISRO, NASA को जानकारी|NewsRedbull

नई दिल्ली: Online Desk अंतरिक्ष में रुचि लेने वाले एक भारतीय द्वारा अमेरिका के ऑर्बिटिंग कैमरा से चंद्रमा की तस्वीरों का निरीक्षण करने के बाद नासा (NASA) ने कहा कि उसे भारतीय चंद्रयान-2 (Chandrayaan 2 Mission) विक्रम लैंडर का दुर्घटनास्थल और मलबा मिला है.

इस जगह का पता शनमुगा सुब्रमण्यम ने पता लगाया, जिन्होंने खुद लूनर रिकनाइसांस ऑर्बिटल कैमरा (एलआरओसी) से तस्वीरें डाउनलोड कीं। इसकी पुष्टि नासा और एरिजोना स्टेट यूनिवर्सिटी ने सोमवार को की. सुब्रमण्यम ने उस मलबे का पता किया, जिसकी तलाश वैज्ञानिक कर रहे थे और उन्होंने वैज्ञानिकों की वह जगह खोजने में मदद की, जहां विक्रम लैंडर क्रैश हुआ था. 

अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने मंगलवार को इसकी घोषणा की है कि विक्रम लैंडर का मलबा मिल गया है और जहां क्रैश हुआ, उस जगह की तस्वीर भी जारी की गई है. नासा ने अपने बयान में कहा, 'शनमुगा ने सबसे पहले मैन क्रैश साइट से लगभग 750 मीटर उत्तर पश्चिम में मलबा देखा.' 

यूनिवर्सिटी ने कहा कि सुब्रमण्यम द्वारा दी गई सूचना पर एलआरओसी टीम ने नए मोजाइक्स में आसपास के क्षेत्र की तलाशी ली और दुर्घटनास्थल तथा मलवे का स्थान देख लिया. यूनिवर्सिटी ने कहा कि दुर्घटनास्थल 70.8810 डिग्री एस, 22.7840 डिग्री ई, 834 मीटर ऊंचाई पर स्थित है. एएसयू ने कहा, "शनमुगा ने सबसे पहले मलबा मुख्य दुर्घटनास्थल से 750 मीटर उत्तर-पश्चिम में देखा.'

बता दें, छह सितंबर को चंद्रयान-2 से लॉन्चिंग के बाद चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सॉफ्टलैंडिंग करने के प्रयास के दौरान लैंडर विक्रम का भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) से संपर्क टूट गया था.

Related News

Like Us

HEADLINES

ब्रेकिंग: शरजील गिरफ्तार, बदला था अपना हुलिया, जानिये कहाँ से दिल्ली क्राइम ब्रांच ने पकड़ा |NewsRedbull | शाहीनबाग: जानिए हाईकोर्ट ने क्या दिया आदेश, वाहनों की आवाजाही शुरू करने की मांग पर | जानिए अब तक कितने प्‍लेन बने मिसाइल का निशाना, गई कितने मासूमों की जान | NewsRedbull | गाजियाबाद: बदमाशों से लूटपाट विरोध, दिन दहाड़े महिला को... पढ़िये ख़बर }NewsRedbull | इस यूनिवर्सिटी में शुरू हुआ CAA और अनुच्छेद 370 पर जागरूकता कोर्स, जानिए डिटेल|NewsRedbull |