और रुक गई दिल की धड़कन: MS धोनी का रन आउट होना बर्दाश्‍त नहीं कर पाया फैन |NewsRedbull

Picture courtesy From Social Media

By : News RedBull | Published On: Jul 11, 2019 |
299


और रुक गई दिल की धड़कन: MS धोनी का रन आउट होना बर्दाश्‍त नहीं कर पाया फैन |NewsRedbull

कोलकाता: Online Desk/ Sports News WC 2019 टीम इंडिया के अनुभवी बल्‍लेबाज महेंद्र सिंह धोनी को 'अनहोनी को होनी' कर दिखाने के लिए जाना जाता है। अगर धोनी क्रीज पर खड़े हैं, तो फैंस को उम्‍मीद रहती है कि टीम इंडिया मैच जीत जाएगी। कुछ ऐसा ही हाल बुधवार को भारत और न्‍यूजीलैंड के बीच विश्‍व कप 2019 के पहले सेमीफाइनल के दौरान भी था।

India lose in World Cup Semi Final

एमएस धोनी जब क्रीज पर मौजूदा थे, तो आस जगी हुई थी कि टीम इंडिया 14 जुलाई को फाइनल मैच खेलेगी। मगर 49वें ओवर की तीसरी गेंद पर उसके फाइनल में पहुंचने की उम्‍मीदें टूट गईं। महेंद्र सिंह धोनी न्‍यूजीलैंड के मार्टिन गुप्टिल के सीधे थ्रो पर रनआउट हो गए। भारतीय टीम और फैंस सदमे में थे।

दुनिया के बेस्‍ट मैच फिनिशर का रनआउट टीम इंडिया के विश्‍व कप जीतने की उम्‍मीदों को तोड़ चुका था। यह मैच का वह पल था जब करोड़ों भारतीयों का दिल टूट गया। उन्‍हें पता चल गया कि अब विश्‍व कप खिताब जीतने का सपना टूट गया है। थर्ड अंपायर ने धोनी को रनआउट करार दिया।

निराश धोनी पवेलियन की तरफ लौटे और भारतीय फैंस की आंखें गीली होने लगी। इस पल को बयां कर पाना किसी भारतीय क्रिकेट फैन के लिए आसान नहीं। टीम इंडिया के खिलाडि़यों को भी समझ आ गया कि अब विश्‍व कप में उनका सफर थम गया है।

धोनी के रनआउट को कोलकाता का एक क्रिकेट प्रशंसक बर्दाश्‍त नहीं कर पाया। उसकी मौत हो गई। जानकारी मिली है कि धोनी के रनआउट होने का सदमा श्रीकांत नहीं झेल सके और अपनी साइकिल की दुकान के अंदर ही उनकी मौत हो गई। श्रीकांत अपने मोबाइल पर मैच देख रहे थे। धोनी के रनआउट होने का उन्‍हें ऐसा झटका लगा कि दिल की धड़कनें हमेशा के लिए रुक गईं।

इस क्षेत्र में मिठाई की दुकान चलाने वाले सचिन घोष ने बताया, 'तेज आवाज सुनने पर हम उनकी दुकान में मदद के लिए पहुंचे। श्रीकांत को हमने जमीन पर मूर्छित अवस्‍था में पाया। हम उन्‍हें नजदीकी अस्‍पताल में लेकर गए, जहां डॉक्‍टर ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया।'

India lose in World Cup Semi Final

भारत में क्रिकेट को धर्म की तरह माना जाता है। यह पहला मौका नहीं जब किसी फैन की मौत मैच देखने के दौरान हुई हो। हालांकि, टीम इंडिया की हार से पूरा देश निराश है। बता दें कि मैनचेस्‍टर के ओल्‍ड ट्रेफर्ड में खेले गए सेमीफाइनल में न्‍यूजीलैंड ने भारत के सामने 240 रन का लक्ष्‍य रखा था, जिसका पीछा करते हुए 'मेन इन ब्‍ल्‍यू' 221 पर सिमट गए।

इस हार के बाद भारतीय कप्‍तान कोहली ने कहा, 'मेरे ख्‍याल से हम दुखी हैं, लेकिन हम बिखरे नहीं है क्‍योंकि हमने इस टूर्नामेंट में काफी अच्‍छी क्रिकेट खेली। हमने सेमीफाइनल में अच्‍छा नहीं खेला और यही इस टूर्नामेंट का नेचर है। नॉकआउट चरण में एक खराब दिन आपको बाहर कर देगा। हम चुनौती के सामने खड़े नहीं हो सके और दबाव में दमदार नहीं खेला। हम अपनी हार स्‍वीकार करते हैं और यह स्‍कोरबोर्ड पर दिखा भी।'

Related News

Like Us

HEADLINES

अयोध्या पुलिस ने क्यों की है सोलह हज़ार स्वयंसेवियों की तैनाती, पढ़िए ख़बर | NewsRedbull | दो बार नोबेल जीतने वाली एकमात्र महिला हैं मैरी क्यूरी, इस खोज के चलते गई थी जान |NewsRedbull | पाक में हिंदू मेडिकल छात्रा की मौत की रिपोर्ट में खुलासा, पंखे पर लटकाने से पहले...पढ़िए ख़बर |NewsRedbull | जानिये क्यों मुरीद हुए है वीवीएस लक्ष्मण कानपुर के इस चाय बेचने वाले से ! NewsRedbull | बोले गोपाल कांडा- मेरी रगों में बहता है RSS का खून |NewsRedbull |