आतंकी भेजने वाले पाकिस्तान से इंसानियत का काम करा ही लिया सुषमा स्वराज ने, पढ़िए पूरा मामला !NewsRedbull

picture courtesy from social media (File Pictures)

By : News RedBull | Published On: Mar 08, 2018 |
202


आतंकी भेजने वाले पाकिस्तान से इंसानियत का काम करा ही लिया सुषमा स्वराज ने, पढ़िए पूरा मामला  !NewsRedbull

नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान के बीच महिला कैदियों के साथ ही 70 साल से अधिक उम्र के कैदियों की रिहाई और उन्हें स्वदेश भेजने के साथ ही संयुक्त न्यायिक कमेटी के दौरे के बहाल करने के मानवीय प्रस्तावों पर सहमति बनी है।  
 विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अक्टूबर 2017 में पाकिस्तानी उच्चायुक्त को सुझाव दिया था कि बुजुर्ग, महिला, बच्चे और मानसिक रूप से अस्वस्थ कैदियों संबंधी मानवीय मुद्दे पर दोनों पक्ष आगे बढ़ सकते हैं।   

Image result for sushma swaraj

 इससे पहले, पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने इस्लामाबाद में बताया कि विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने तमाम हितधारकों से विचार- विमर्श करने के बाद दोनों देशों में बंद नागरिक कैदियों के संबंध में भारतीय पक्ष की ओर से आए मानवीय प्रस्तावों को मंजूरी दी। 
 विदेश कार्यालय ने बताया कि मंत्री ने दो और मानवीय प्रस्तावों को मंजूरी दी जिसमें 60 साल से अधिक उम्र के कैदियों और 18 साल से कम उम्र के बाल कैदियों की अदला-बदली शामिल है। विदेश कार्यालय ने कहा कि विदेश मंत्री ने उम्मीद जताई है कि भारत इसी भावना से पाकिस्तान के प्रस्तावों को सकारात्मक तरीके से विचार करेगा।

Image result for sushma swaraj

 मंत्रालय ने कहा कि हमने पाया कि पाकिस्तान ने मंत्री के सुझाव पर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है। मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि उन्होंने एक दूसरे के यहां बंद 70 साल से अधिक उम्र के कैदियों और महिला कैदियों की रिहाई और उन्हें स्वदेश भेजने की दिशा में काम करने का सुझाव दिया था।  

  बयान में कहा गया कि चिकित्सा विशेषज्ञों की एक टीम की मुलाकात मानसिक रूप से अस्वस्थ कैदियों से करायी जाएगी ताकि ऐसे कैदियों को उनके देश वापस भेजा जा सके।   
 इसमें कहा गया है कि संयुक्त न्यायिक कमेटी का दौरा बहाल करने पर भी सहमति बनी जो कि एक दूसरे के यहां बंद मछुआरे और कैदियों का मुद्दा देखेगी। इस तरह की कमेटी का अंतिम दौरा भारत में अक्तूबर 2013 को हुआ था। 
 

Related News

Like Us

HEADLINES

3 राज्यों में हुई हार से ख़लबली के बाद मोदी पार्टी सांसदों को करेंगे संबोधित ! NewsRedbull | 'जन सैलाब प्रमाण है कि शेर को चोट नहीं देनी चाहिए' जानिए किसने कहा|NewsRedbull | एग्जिट पोल: जानें 5 राज्यों में किसका होगा राजतिलक | NewsRedbull |EXIT POLL| | UP: जानिए सपा MLC की पुत्रवधू ममता निषाद को कोर्ट ने क्यों जारी की नोटिस |NewsRedbull | जानिए किस BJP सांसद ने बोला-'मनुवादियों के गुलाम थे 'दलित' हनुमान,भगवान राम ने बंदर बनाया' NewsRedbull |