मोदी का 'रूहानी' पर "रूहानी' जादू : नेपाल,भूटान के बाद अब इस देश में भी चलेगा भारतीय नोट! NewsRedbull

Picture courtesy from Social Media

By : News RedBull | Published On: Feb 17, 2018 |
1281


मोदी का 'रूहानी' पर "रूहानी' जादू : नेपाल,भूटान के बाद अब इस देश में भी चलेगा भारतीय नोट! NewsRedbull


नई दिल्ली (17 फरवरी): इरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी भारत के दौरे पर हैं। हसन रुहानी का ये दौरा कई मायने में ऐतिहासिक है। राष्ट्रपति रुहानी के दौरे के तीसरे और आखिरी दिन भारत और इरान के बीच कई महत्वपूर्ण समझौते हुए, जो आने वाले दिनों में दोनों देशों के संबंधों में मिल का पत्थर साबित होगा।   प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति रुहानी के बीच व्यापार, सुरक्षा और संपर्क, रणनीतिक चाबहार पोर्ट पर भी चर्चा हुई। स्वास्थ्य और दवाइयों के क्षेत्र में भी सहयोग के मुद्दे पर भी दोनों देशों ने चर्चा की। खाड़ी देशों और पश्चिम एशियाई देशों में भारत के बढ़ते सहयोग और योगदान पर भी चर्चा की गई।  


इतना ही नहीं सबकुछ ठीक रहा तो नेपाल और भूटान के बाद इरान तीसरा ऐसा देश होगा जहां भारतीय रुपया चलेगा। दोनों देशों में इस बात पर सहमति बन चुकी है कि भारतीय व्यापारी इरान में भारतीय मुद्रा में निवेश कर अपना व्यापार कर सकते हैं। इस कदम को दोनों देशों के संबंधों को मजबूत करने वाला कदम माना जा रहा है। अब नेपाल और भूटान के बाद ईरान तीसरा ऐसा मुल्‍क हो गया है जहां रुपये में निवेश किया जाएगा।

Image result for iran-president-hassan-rouhani

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी तीन दिन के भारत दौरे पर आए हुआ हैं। राष्ट्रपति हसन रूहानी आज राष्ट्रपति भवन पहुंचे, जहां उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात क। पीएम मोदी और राष्ट्रपति कोविंद से मुलाकात के बाद ईरानी राष्ट्रपति राजघाट पहुंचे।  रूहानी ने यहां राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की समाधि पर पुष्पाजंलि अर्पित की। इस मुलाकात में रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण चाबहार पोर्ट पर फैसला हो सकता है। पीएम मोदी से मुलाकात से पहले उन्हें राष्ट्रपति भवन में उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। रूहानी आज व्यापारियों से भी मुलाकात करेंगे। 

Image result for iran-president-hassan-rouhani 

राष्ट्रपति हसन रूहानी बाद में ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन को संबोधित करेंगे। अगस्त 2013 में कार्यभारत संभालने के बाद ईरान के सातवें राष्ट्रपति की यह पहली भारत यात्रा है। भारत और ईरान के बीच मजबूत आर्थिक और वाणिज्यिक संबंध है।  
 पीएम मोदी की वर्ष 2016 में ईरान यात्रा के दौरान करीब एक दर्जन से अधिक समझौते पर हस्ताक्षर किये गये थे। शुक्रवार को रूहानी ने हैदराबाद में मक्का मस्जिद में जुमे की नमाज़ के लिए जुटे लोगों को संबोधित किया, उन्होंने कहा कि लोगों को पंथ के आधार पर होने वाले मतभेदों से ऊपर उठना चाहिए। 

Related News

Like Us

HEADLINES

3 राज्यों में हुई हार से ख़लबली के बाद मोदी पार्टी सांसदों को करेंगे संबोधित ! NewsRedbull | 'जन सैलाब प्रमाण है कि शेर को चोट नहीं देनी चाहिए' जानिए किसने कहा|NewsRedbull | एग्जिट पोल: जानें 5 राज्यों में किसका होगा राजतिलक | NewsRedbull |EXIT POLL| | UP: जानिए सपा MLC की पुत्रवधू ममता निषाद को कोर्ट ने क्यों जारी की नोटिस |NewsRedbull | जानिए किस BJP सांसद ने बोला-'मनुवादियों के गुलाम थे 'दलित' हनुमान,भगवान राम ने बंदर बनाया' NewsRedbull |