आज ज्यूडीशियरी के लिए काला दिन, हर फैसले पर लोग सवाल उठाएंगे: उज्ज्वल निकम | NewsRedbull

Picture courtesy from Social Media

By : News RedBull | Published On: Jan 12, 2018 |
179


आज ज्यूडीशियरी के लिए काला दिन, हर फैसले पर लोग सवाल उठाएंगे: उज्ज्वल निकम | NewsRedbull

नई दिल्ली(12 जनवरी): सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सीजेआई के कामकाज के तरीके पर सवाल उठाए। SC के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि सीनियर जजों ने इस तरह मीडिया में अपनी बात रखी हो।   
 इस पर सीनियर वकीलों और रिटायर्ड जजों ने अपनी प्रतिक्रिया दी।   
 वकील उज्ज्वल निकम ने इसे ज्यूडीशियरी के लिए काला दिन बताया। वहीं, ज्यूडीशियल सिस्टम से जुड़े लोगों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले जजों के साथ खड़े दिखे। उन्होंने कहा कि इसके पीछे कोई तो गंभीर वजह होगी।  
 सीनियर वकील इंदिरा जयसिंह ने कहा, ''मैं सोचती हूं कि ये एक ऐतिहासिक प्रेस कॉन्फ्रेंस थी। बहुत अच्छी तरह से हुई। देश की जनता को यह जानने का हक है कि ज्यूडीशियरी में क्या चल रहा है। मैं इसका स्वागत करती हूं।''  
 ''प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले 4 जज चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया के खिलाफ नहीं हैं। इनका मकसद है कि कैसे इंस्टीट्यूशन को और मजबूत बनाया जाए। 
जैसा उन्होंने कहा कि वे कोर्ट जाएंगे और पहले की तरह काम करेंगे।''  
सीनियर वकील उज्ज्वल निकम ने कहा, ''यह ज्यूडीशियरी के लिए काला दिन है। आज की प्रेस कॉन्फ्रेंस एक खराब मिसाल साबित होगी। आज के बाद हर आम नागरिक सभी ज्यूडीशियल ऑर्डर को संदेह के तौर पर देखेगा। हर फैसले पर लोग सवाल उठाएंगे। वहीं वरिष्ठ वकील और राज्यसभा सांसद केटीएस तुलसी ने सुप्रीम कोर्ट के चार सीनियर जजों के द्वारा सुप्रीम कोर्ट प्रशासन पर आरोप लगाए जाने की घटना पर आश्‍चर्य व्‍यक्‍त करते हुए इनकी वकालत की। तुलसी ने कहा, इस तरीके को अपनाने के पीछे जजों की बड़ी मजबूरी रही होगी। जब वे बोल रहे थे तब उनके चेहरे पर दर्द स्‍पष्‍ट तौर पर देखा जा सकता था। 


Related News

Like Us

HEADLINES

3 राज्यों में हुई हार से ख़लबली के बाद मोदी पार्टी सांसदों को करेंगे संबोधित ! NewsRedbull | 'जन सैलाब प्रमाण है कि शेर को चोट नहीं देनी चाहिए' जानिए किसने कहा|NewsRedbull | एग्जिट पोल: जानें 5 राज्यों में किसका होगा राजतिलक | NewsRedbull |EXIT POLL| | UP: जानिए सपा MLC की पुत्रवधू ममता निषाद को कोर्ट ने क्यों जारी की नोटिस |NewsRedbull | जानिए किस BJP सांसद ने बोला-'मनुवादियों के गुलाम थे 'दलित' हनुमान,भगवान राम ने बंदर बनाया' NewsRedbull |